Saturday, December 29, 2012

अगले जानम मोहे बिटिया ना देना

मा बहुत दर्द सह कर..
बहुत दर्द दे कर..
तुझसे कुछ कह कर मैं जा रही हूँ........
आज मेरी विदाई मे जब सखियाँ मिलने आएँगी...
सफ़ेद जोड़े मैं लिपटी देख सिसक सिसक मार जाएँगी...
लड़की होने का खुद पे फिर वो अफ़सोस जताएँगी.....
मा तू उनसे इतना कह देना दरिंदो की दुनिया मैं संभाल कर रहना...............
मा रखी पर जब भैया की कलाई सुनी रह जाएगी..
याद मुझे कर कर जब उनकी आँख भर आएगी....


तिलक माथे पर करने को मा रूह मेरी भी मचल जाएगी...
मा तू भैया को रोने ना देना...
मैं साथ हू हर पल उनसे कह देना............
मा पापा भी छुप छुप बहुत रोएंगे...
मैं कुछ ना कर पाया ये कह के खुद को कोसेंगे....
मा दर्द उन्हे ये होने ना देना..
इल्ज़ाम कोई लेने ना देना...
वो अभिमान है मेरा सम्मान है मेरा..
तू उनसे इतना कह देना........
मा तेरे लिए अब क्या कहूँ..
दर्द को तेरे शब्दों मैं कैसे बाँधूं ...
फिर से जीने का मोका कैसे मांगू......
मा लोग तुझे सताएँगे....
मुझे आज़ादी देने का तुझपे इल्ज़ाम लगाएँगे....
मा सब सह लेना पर ये ना कहना
"अगले जानम मोहे बिटिया ना देना"

9 comments:

  1. रूला देने वाली कविता।

    ReplyDelete
  2. बहुत अच्छा रहेगा यदि हिन्दी कविता हिन्दी फॉन्ट मे ही लिखें।
    अगर आप Windows 7 use करती हैं तो http://www.bhashaindia.com/ilit/
    पर जा कर install desktop version पर क्लिक करके टूल डाऊनलोड कर लें। या फिर http://www.google.co.in/transliterate पर जा कर भी हिन्दी टाइप कर सकती हैं।

    (सिर्फ एक सुझाव)

    सादर

    ReplyDelete
    Replies
    1. thank you so much sir....I will do that for sure...

      Delete
  3. awesome post... loved the way you described it

    ReplyDelete
  4. Hello,
    Can you please let us know who wrote this wonderful piece.

    Regards
    HemRaj

    ReplyDelete
  5. Hello

    I recited this poem now. Who is writer I do not know. But on face book i found it was written by Amitabh Bachchan ji
    May be I wrong or right I do not know.
    link

    http://www.youtube.com/watch?v=aCfoxzA5N10

    ReplyDelete
  6. http://www.youtube.com/watch?v=aCfoxzA5N10

    If you are writer then please inform. So I can rectify.

    Thanks

    ReplyDelete
    Replies
    1. Thanq you sir....I also found that on FB...and dont who is the writer...just I found it veery beautiful so I shard it here........

      Delete
    2. dear dharam Pal Arora ji
      plz see this post - http://www.youtube.com/watch?v=fyrj5tMwjic&sns=fb

      and

      Hadd ho gayi Amitabh uncle poem meri or cradit aap le rahe ho...jao Maaf kiya...


      Amitabh Bachchan: pays his tribute to Delhi rape victim with his poem.... Must read (Very Touching!)
      ------------
      Maa bohot Dard sah kar..
      bohot dard de kar..
      tujhse kuch kah kar main jaa rahi hun........

      Indu Rinki Verma shared Bohot bhukh lagi hai yaar subah se kuch nahi khaya's photo.
      January 2

      https://www.facebook.com/moony.verma?fref=ts

      Delete

I love to hear from you about this post..

Great People.. Love You All :)